-0.5 C
Munich

मायावती के भाई पर आईटी का शिकंजा

Must read

आयकर विभाग ने यूपी की पूर्व मुख्यमंत्री और बसपा प्रमुख मायावती के भाई आनंद कुमार और भाभी विचित्रलता का कमर्शल प्लॉट जब्त कर लिया है। आयकर विभाग के मुताबिक, इस प्लॉट को बेनामी संपत्ति माना गया है। नोएडा के सेक्टर 94 में स्थित 7 एकड़ के इस प्लॉट की कीमत ४०० करोड़ रुपये है। यहां फाइव स्टार होटल बनाने की योजना थी। सूत्रों के मुताबिक, इस मामले में अब सीबीआई और ईडी भी केस दर्ज करेंगी।

आनंद को मायावती ने हाल ही में बसपा का राष्ट्रीय उपाध्यक्ष नियुक्त किया था। यूपी में 12 विधानसभा क्षेत्रों में उपचुनाव से पहले यह कार्रवाई हुई है। विभाग की जांच से पता चला है कि आनंद कुमार और उनकी पत्नी को बेनामी संपत्ति का फायदा पहुंचाने के लिए कम से कम छह कंपनियों के जरिए लेन-देन का जटिल जाल बिछाया गया था। इनमें दिखावे की कंपनियां भी थीं। इस प्लॉट को खरीदने के लिए दिल्ली के हवाला ऑपरेटरों से पैसों का अवैध लेन-देन हुआ था।

पिछले कुछ वर्षों में अचानक खरबपति हुए आनंद पर आयकर विभाग की नजर कई साल से है। आयकर विभाग के सूत्रों का दावा है कि 1996 से २००३ तक नोएडा अथॉरिटी में जूनियर असिस्टेंट रहे आनंद की कमाई २००७ से २०१४ के बीच 7 करोड़ से बढकऱ 1316 करोड़ रुपये हो गई थी। २००७ से २०१२ के बीच उन्होंने 49 कंपनियां बनाई।

- Advertisement -spot_img
- Advertisement -spot_img

नवीनतम लेख