छोटी उम्र में बड़ा काम – वैष्णव शेट्टी

0
60

वैष्णव शेट्टी दिग्गज लॉजिस्टिक्स कंपनी ईसीयू वर्ल्डवाइड के बोर्ड में निदेशक की भूमिका में शानदार काम कर रहे हैं। १९८७ में स्थापित, ईसीयू वर्ल्डवाइड ऑलकार्गो लॉजिस्टिक्स की पूर्ण स्वामित्व वाली वैश्विक सहायक कंपनी है। इस कंपनी के पास १८० से अधिक देशों में ३०० से ज़्यादा कार्यालय हैं। वैष्णव प्रतिष्ठित लॉजिस्टिक्स कंपनी आलकार्गो लॉजिस्टिक्स लिमिटेड के चेयरमैन और देश के प्रभावशाली उद्योगपति शशि किरण शेट्टी के बेटे हैं।

चेहरे पर हमेशा विनम्र मुस्कान रखने वाले २८ वर्षींय वैष्णव शेट्टी आलकार्गो लॉजिस्टिक्स लिमिटेड में चीफ डिजिटल ऑफिसर की भी भूमिका निभाते हैं। एमोरी यूनिवर्सिटी, अटलांटा से इकोनॉमिक्स में ग्रेजुएशन की शिक्षा प्राप्त करने के बाद २०१७ में वैष्णव को कंपनी का कार्यकारी निदेशक बनाया गया। उनकी यह भूमिका कंपनी के डिजिटल ट्रांसफॉर्मेशन पर शुरू से ही केंद्रित रही है। यूँ तो वैष्णव बेहद कुशलता के साथ काम कर रहे हैं लेकिन एक यंग बिजनेस लीडर के नज़रिये से उनकी यह भूमिका काफी महत्वपूर्ण है।

इन्फॉर्मेशन टेक्नोलॉजी के इस दौर में दुनिया AI और ChatGPT और अन्य बड़े इनोवेशंस की बात कर रही है, ऐसे में लॉजिस्टिक्स स्पेस में भी तकनीक की महत्ता बढ़ जाती है। वैष्णव की मानें तो वह ऐसी टेक स्टार्टअप कंपनियों का अधिग्रहण करने में दिलचस्पी रखते हैं जो उनकी लॉजिस्टिक्स कंपनी के कोर बिजनेस से मेल खाती हो और कंपनी के विस्तार को मजबूत आधार प्रदान करने में सहायक साबित हो। डिजिटल इनोवेशन की दृष्टि से वैष्णव शेट्टी के अथक प्रयासों ने लॉजिस्टिक्स इंडस्ट्री को नया रूप दिया है और ऑलकार्गो लॉजिस्टिक्स लिमिटेड तथा ईसीयू वर्ल्डवाइड को इंडस्ट्री लीडर्स के रूप में स्थापित करने में बड़ी भूमिका निभाई है।

siteadmin