पुराने दिन गए जब गृहस्थी हो या व्यापार, किसी भी चीज की खरीद-बिक्री के लिए वस्तु विनिमय प्रणाली यानी बार्टर सिस्टम इस्तेमाल किया जाता था। समय के साथ-साथ बार्टर...

संपादकीय

संजीव बजाज: व्यावसायिक उत्कृष्टता के प्रबल पक्षधर

पुराने दिन गए जब गृहस्थी हो या व्यापार, किसी भी चीज की खरीद-बिक्री के लिए वस्तु विनिमय प्रणाली यानी बार्टर सिस्टम इस्तेमाल किया जाता...

सुनील भारती मित्तल, कर्मठता जिनकी पहचान है

सुनील भारती मित्तल देश ही नहीं बल्कि दुनिया के एक ऐसे उद्योगपति हैं जिन्होंने अपनी दूरदर्शिता और कर्मठ प्रयासों के माध्यम से टेलिकॉम इंडस्ट्री...

समृद्धि की राह पर भारतीय अर्थव्यवस्था : बुर्जिस गोदरेज

भारतीय त्योहारों की सबसे बड़ी विशेषता यही है कि एक ओर यह पारस्परिकता के भाव को तो बढ़ाते ही हैं साथ ही ये गहरे...

लॉजिस्टिक्स  सेक्टर के प्रणेता शशि किरण शेट्टी

2005-06 के दौर में एक इतिहास रचा गया। ऑलकार्गो लॉजिस्टिक्स ने दुनिया की दूसरी सबसे बड़ी ऱ्न्न्ध्ण्ण्‌ (कंपनियां जो गेटवे पोट्‌र्स तक कंटेनर की...

वोलैटिलिटी  निवेशकों के लिए बड़ा मौका : विनय टोंसे

हाल ही में ग्लोबल रेटिंग फर्म ख्झ्श्‌उ ने एक सर्वे किया। इस सर्वे में शामिल 1325 ण्ध्‌िं ने अगले 12 महीनों में मंदी की...

Edition: October 2022

मनोरंजन

झारखंड हाईकोर्ट ने खारिज की अमीषा पटेल की याचिका

ढाई करोड़ के धोखाधड़ी में नहीं मिली राहत, चेक बाउंस का मामला फि ल्म अभिनेत्री अमीषा पटेल की मुश्किलें बढ़ने वाली हैं। धोखाधड़ी के मामले में फिल्म अभिनेत्री की ओर...

बदलता सिनेमा इसका इतिहास और निहितार्थ

वर्तमान में सिनेमा में जो परिवर्तन आ रहे हैं वो अपने समय से सुसंगत ही हैं। अपने समय को व्यक्त करने की सिनेमाई इच्छा...

संजय लीला भंसाली की हीरोइन बनना मेरा सपना था – आलिया भट्ट

गंगूबाई करने के पीछे कोई खास कारण? मेरे लिए सबसे जरूरी बात यह थी कि मुझे संजय सर के साथ काम करना था। मैं हमेशा...

डैनियल क्रेग अपनी आखिरी बॉन्ड फ़िल्म ‘नो टाइम टू डाय” को लेकर चर्चा में

मैं इस फिल्म में पियर्स (ब्रॉसनन) नहीं बन सकता था ना ही शॉन (कॉनरी) दिख सकता था। मैं यहां केवल वही करना चाहता था...